PM Kisan योजना : बेनिफिशियरी स्‍टेटस देखने के लिए अब आधार नहीं आएगा काम, जानिए अब कैसे चेक करें स्‍टेटस

   

PM Kisan योजना : बेनिफिशियरी स्‍टेटस देखने के लिए अब आधार नहीं आएगा काम, जानिए अब कैसे चेक करें स्‍टेटस






PM Kisan Yojana- पीएम किसान योजना (PM Kisan Yojana) के बेनिफिशियरी स्‍टेटस देखने का तरीका बदल चुका है. पहले जहां स्‍टेटस देखने के लिए एक किसान अपने मोबाइल नंबर या आधार कार्ड में से किसी का भी प्रयोग कर सकता था, वहीं अब इस काम के लिए उसे मोबाइल नंबर का ही उपयोग करना होगा.

नई दिल्‍ली. देश के करीब 8 करोड़ किसानों के बैंक खातों में प्रधानमंत्री किसान सम्‍मान निधि योजना (Prime Minister Kisan Samman Nidhi Yojana) की 12वीं किस्‍त के 2,000 रुपये आ चुके हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने कल, यानि 17 अक्‍टूबर को यह धनराशि किसानों के बैंक अकाउंट में डाली. बार देश के किसानों के खातों में 16,000 करोड़ रुपये डाले गए हैं. जबकि 11वीं किस्‍त में 21,000 करोड़ रुपये लाभार्थी किसानों किसानों को दिए गए थे. 11वीं किस्‍त जहां 10 करोड़ किसानों को को मिली थी, वहीं, इस बार 8 करोड़ किसानों के बैंक खातों में ही पैसे आए हैं.
किसानों द्वारा पीएम किसान योजना (PM Kisan yojna) के लिए अनिवार्य केवाईसी न कराना और सरकार द्वारा भूमि रिकॉर्ड के वेरिफिकेशन करने से फर्जी लाभार्थियों का नाम लाभार्थी लिस्‍ट से हटाने के कारण 12वीं किस्‍त कम किसानों को मिली है. अगर आपको भी इस बार किस्‍त नहीं मिली है तो आप घर बैठे ही अपना स्‍टेटस चेक कर सकते हैं. ऐसा आप पीएम किसान की आधिकारिक वेबसाइट पर उपलब्‍ध बेनिफिशियरी स्‍टेटस का अवलोकन कर कर सकते हैं.


बदल गया है तरीका
सरकार ने बेनिफिशियरी स्‍टेटस देखने के तरीके में भी बदलाव कर दिया है. पहले बेनिफिशियरी स्‍टेटस देखने के दो तरीके थे. किसान इसे अपने रजिस्‍टर्ड मोबाइल नंबर और आधार कार्ड की सहायता से देख सकता था. लेकिन, अब सरकार ने इसके लिए आधार कार्ड का प्रयोग बंद कर दिया है. अब किसान आधार कार्ड का प्रयोग कर पीएम किसान की आधिकारिक वेबसाइट पर लाभार्थी स्‍टेटस नहीं देख सकता.

क्‍या है बेनिफिशियरी स्‍टेटस?
बेनिफिशियरी स्‍टेटस में किसान के पीएम किसान योजना खाते का पूरा ब्‍योरा होता है. जैसे उसे अब तक कितनी किस्‍त मिल चुकी है, उसके बैंक अकाउंट में क‍ब पैसे जमा हुए, अगर उसकी कोई किस्‍त अटकी तो है तो उसकी वजह क्‍या है, उसका आधार कार्ड वेरिफाइड है या नहीं आदि.


Reactions

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ