PM Kisan Samman Nidhi Scheme: पीएम ने 12.75 करोड़ लोगों को भेजी किसान योजना की १०वीं किस्त, जानिए कैसे चेक करें लिस्ट में नाम है या नहीं!

 



Kisan Samman Nidhi Scheme: प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि स्कीम के तहत मोदी सरकार किसानों को हर साल 6000 रुपये देती है। ये

 पैसे 2-2 हजार रुपये की तीन किस्तों में किसानों के खातों में ट्रांसफर किए जाते हैं। आज यानी 10 december को किसानों के खाते में इसकी

10 किस्त (PM-Kisan 10th Installment)  जानिए इस योजना के लिए कैसे करें रजिस्टर (how to register for pm kisan yojana) और कैसे

 चेक करें (how to check name in pm kisan scheme) इसमें अपना नाम।

कार्यक्रम के दौरान प्रधानमंत्री ने किसान लाभार्थियों से बातचीत भी की। आइए जानते हैं आप कैसे चेक करें कि लाभार्थियों की लिस्ट में आपका नाम है या नहीं।

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि(पीएम-किसान) योजना के तहत, पात्र लाभार्थी किसान परिवारों को 6000 रूपए प्रति वर्ष की आर्थिक मदद

 दी जाती है। 2000 रुपये की 3 किस्तों में प्रत्येक 4 माह में प्रदान किया जाता है। धनराशि को सीधे लाभार्थियों के बैंक खातों में हस्तांतरित

 किया जाता है। इस योजना के अंतर्गत, अब तक 1.38 लाख करोड़ रुपये से अधिक की सम्मान राशि किसान परिवारों के बैंक खातों में

 हस्तांतरित की जा चुकी है।

कोई किसान खेती करता है लेकिन वह खेत उसके नाम पर न होकर उसके पिता या दादा के नाम हो तो उसे 6000 रुपये सालाना का लाभ

 नहीं मिलेगा। वह जमीन किसान के नाम होनी चाहिए।

किसी के पास एग्रीकल्चर लैंड है लेकिन उस पर नॉन एग्रीकल्चर एक्टिविटी होती हैं, तो भी लाभ नहीं मिलेगा।

अगर कृषि योग्य भूमि पर खेती नहीं हो रही है तो भी लाभ नहीं मिलेगा।

अगर कोई किसान किसी दूसरे किसान से जमीन लेकर किराए पर खेती करता है, तो भी उस किराए पर खेती करने वाले को योजना का

 लाभ नहीं मिलेगा।

सभी संस्थागत भूमि धारक इस योजना के दायरे में नहीं आएंगे।

अगर कोई किसान या उसके परिवार में कोई संवैधानिक पद पर है या था तो उस किसान परिवार को लाभ नहीं मिलेगा।

राज्य/केंद्र सरकार के कर्मचारी या रिटायर्ड कर्मचारी, पीएसयू/पीएसई के रिटायर या सेवारत कर्मचारी, सरकारी स्वायत्त निकायों के सेवारत

 या सेवानिवृत्त अधिकारी और कर्मचारी, लोकल बॉडीज के कर्मचारी होने पर भी योजना का लाभ नहीं लिया जा सकता।

पूर्व या सेवारत मंत्री/राज्यमंत्री, मेयर या जिला पंचायत अध्यक्ष, विधायक, एमएलसी, लोकसभा और राज्यसभा सांसद पात्र नहीं हैं।

डॉक्टर, इंजीनियर, सीए, आर्किटेक्ट्स और वकील जैसे प्रोफेशनल्स को भी योजना का लाभ नहीं मिलेगा, भले ही वे किसानी भी करते हों।

10,000 रुपये से अधिक की मासिक पेंशन पाने वाले सेवानिवृत्त पेंशनभोगियों को इसका लाभ नहीं मिलेगा।

अगर किसी किसान ने या उसके परिवार में से किसी ने अंतिम मूल्यांकन वर्ष में इनकम टैक्स का भुगतान किया है तो उस किसान परिवार

 को भी योजना के दायरे से बाहर रखा गया है।

पीएम किसान सम्मान निधि योजना लाभार्थी 8वीं किस्त के लिए बेनिफीशियरी लिस्ट में अपना नाम चेक कर सकते हैं। यह लिस्ट

pmkisan.gov.in पोर्टल पर अपलोड हो जाती है, जिसमें कृषि और किसान कल्याण मंत्रालय, पीएम किसान सम्मान निधि के तहत लाभ पाने

 वाले किसानों के नाम शामिल करता है। नाम चेक करने के लिए-

 

pmkisan.gov.in पर क्लिक करें।

वेबसाइट खुलने के बाद मेन्यू बार देखें और ‘फार्मर कॉर्नर’ पर जाएं।

लाभार्थी सूची/बेनिफीशियरी लिस्ट टैब पर क्लिक करें।

अपना राज्य, जिला, उप-जिला, ब्लॉक और गांव का विवरण दर्ज करें।

इसके बाद आपको Get Report पर क्लिक करना होगा, जिसके बाद आपको जानकारी मिल जाएगी।

जिन किसानों को इस योजना का लाभ सरकार की तरफ से दिया गया है उनके भी नाम राज्य/जिलेवार/तहसील/गांव के हिसाब से देखे जा

 सकते हैं।

Click to Generate link
Reactions

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ