सभी राज्यों पेंशन योजना ऑनलाइन आवेदन,ALL Pension Scheme (SSPY) 2021-22

 



हम सभी जानते हैं कि पेंशन हमारे जीवन में महत्वपूर्ण है और मुख्य रूप से पेंशन हमारे देश के वृद्ध लोगों को दी जाती है। तो आज इस लेख के तहत, हम आपके साथ यूपी  के बारे में सभी विवरण साझा करेंगे जो वर्ष 2019 में शुरू किए गए थे और जो 2021 के नए वर्ष में जारी रहेंगे। इस लेख में, हमने कई पेंशन योजनाओं के बारे में जानकारी प्रदान की है। जो सरकार द्वारा लॉन्च किए गए थे। इस लेख में, हमने UP Pension Scheme पात्रता मानदंड, आवेदन प्रक्रिया और उनके संबंध में कई अन्य विवरण प्रदान किए हैं।

 

उत्तर प्रदेश पेंशन योजना- Pension Scheme

उत्तर प्रदेश सरकार ने निम्नलिखित पेंशन योजना के बारे में जानकारी  और ऑनलाइन आवेदन के लिए एक अलग पोर्टल लॉन्च किया है, जो है-

  • यूपी वृद्धावस्था पेंशन योजना
  • यूपी विधवा पेंशन योजना
  • उत्तर प्रदेश विकलांग पेंशन योजना

 

इस एकीकृत पेंशन योजना पोर्टल के माध्यम से आपको उपरोक्त सभी योजनाओं के बारे में विभिन्न जानकारी मिलेगी। साथ हीUP Pension Scheme से संबंधित आवेदन पत्र, पात्रता मानदंड और आदि मिलेंगे।

56 लाख नागरिकों को प्रदान किया जाएगा वृद्धावस्था पेंशन योजना का लाभ

जैसे कि आप सभी लोग जानते हैं यूपी पेंशन स्कीम के अंतर्गत 60 वर्ष या उससे अधिक आयु के गरीब वृद्ध नागरिकों को सरकार द्वारा ₹500 प्रति माह पेंशन प्रदान की जाती है। उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा जल्द ही राज्य के 56 लाख बुजुर्गों को यह पेंशन दी जाएगी। सरकार द्वारा इस वर्ष 5 लाख नए बुजुर्गों को भी इस योजना से जोड़ा गया है। जिसे जोड़ने के बाद यह योजना अब तक की  बन गई है। इस योजना के अंतर्गत पेंशन वितरण समाज कल्याण विभाग द्वारा किया जाता है। विभाग ने वितरण कार्यक्रम करने के लिए मुख्यमंत्री से समय की मांग की है। समय मिलते ही सभी नए लाभार्थियों को भी इस योजना से जोड़ा जाएगा एवं उन्हें स्वीकृति प्रमाण पत्र प्रदान किया जाएगा। जिसके पश्चात उनके खाते में पेंशन का वितरण किया जाएगा।

 

उत्तर प्रदेश पेंशन योजना में लाभार्थियों को दी गयी पेंशन

यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ जी ने वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से बताया है कि बुधवार को उत्तर प्रदेश पेंशन योजना के अंतर्गत राज्य के 86.95 लाख वृद्धजन , विधवा , दिव्यांगजन व कुष्ठजन लाभार्थियों के बैंक अकाउंट में तीन महीने यानि जुलाई,अगस्त, सितम्बर की पेंशन सरकार द्वारा ट्रांसफर कर दी गयी है। जिससे ये सभी वृद्धजन , विधवा , दिव्यांगजन व कुष्ठजन अपना जीवन अच्छे से व्यतीत कर सकते है ये राज्य सरकार का बहुत अच्छा प्रयास है।  वृद्धजन विधवा , दिव्यांगजन व कुष्ठजन अब सरकारी योजनाओ से भी वंचित नहीं रहेंगे। उन्हें भी सरकार द्वारा शुरू की जा रही सभी सरकारी योजना का लाभ प्रदान  किया जायेगा। मुख्यमंत्री जी का कहना है कि गावो से लेकर शहरी तक सभी सभी दिव्यांगों, निराश्रितों को सरकार योजना का लाभ प्रदान करने का प्रयास किया जायेगा।

यूपी पेंशन स्कीम का उद्देश्य

UP Pension Scheme का मुख्य उद्देश्य उत्तर प्रदेश के सभी नागरिकों को  प्रदान करना है। इस योजना के माध्यम से उत्तर प्रदेश के जरूरतमंद वृद्ध, दिव्यांग एवं विधवा महिला पेंशन प्राप्त कर सकती हैं। जिससे कि उनकी आर्थिक स्थिति में सुधार आएगा और उन्हें दूसरों पर निर्भर रहने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी। यूपी पेंशन स्कीम के अंतर्गत प्रोत्साहन राशि सीधे नागरिकों के बैंक अकाउंट में भेजी जाएगी जिससे कि भ्रष्टाचार में रोक लग सकेगी। अब इस योजना की वजह से उत्तर प्रदेश के नागरिको को वित्तीय समस्याओं का सामना नहीं करना पड़ेगा।

कितने लाभार्थियों को पेंशन दी गयी

इस योजना के अंतर्गत कुष्ठावस्था पेंशन 2500 रूपये प्रतिमाह और वृद्धावस्था ,विधवा , दिव्यांगजनों को 500 रूपये प्रतिमाह के हिसाब से प्रदान की जाएगी।

  • वृद्धावस्था – 4987054
  • निराश्रित – 2606213
  • दिव्यांग – 1090436
  • कुष्ठवस्था -11324

उत्तर प्रदेश पेंशन योजना का प्रकार

यूपी वृद्धावस्था पेंशन योजना

वृद्धावस्था योजना हमारे देश के वरिष्ठ नागरिकों के विकास के लिए है। इस योजना के तहत, उत्तर प्रदेश राज्य में रहने वाले पुराने लोगों को प्रति माह 800 रुपये प्रोत्साहन राशि दी जाएगी। योजना के शुभारंभ के पीछे मुख्य उद्देश्य उत्तर प्रदेश राज्य के वरिष्ठ नागरिकों का कल्याण है। यह योजना बढ़े हुए प्रोत्साहन के साथ जारी की गई है, पहले इस योजना के तहत प्रोत्साहन सिर्फ 750 रुपये प्रति माह था और अब यह प्रोत्साहन 800 रुपये प्रति माह है।

यूपी विधवा पेंशन योजना– Widow Pension Uttar Pradesh

उत्तर प्रदेश विधवा पेंशन योजना के माध्यम सेउत्तर प्रदेश की विधवाओं को प्रोत्साहन के रूप में उत्तर प्रदेश सरकार 500 रुपये प्रदान कर रही है। इस योजना के कार्यान्वयन के माध्यम से कुछ जातियों की विधवाओं पर वित्तीय बोझ कम हो जाएगा। साथ ही, इस योजना के कार्यान्वयन से समाज के आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग का विकास किया जाएगा।

उत्तर प्रदेश विकलांग पेंशन योजना

जैसा कि इस उत्तर प्रदेश शारीरिक रूप से अक्षम पेंशन योजना के तहत ऊपर उल्लेख किया गया है, सभी लाभार्थियों को 500 रुपये प्रदान किए जाएंगे, लेकिन योजना में प्रवेश करने का मुख्य मानदंड 40% विकलांगता है। इस योजना के लिए पात्र होने के लिए, आवेदक के पास शहर या जिला अस्पताल या योजना के किसी भी संबंधित अधिकारी द्वारा सत्यापित 40% विकलांगता होनी चाहिए।

UP Pension Scheme के लाभ

  • उत्तर प्रदेश पेंशन योजनाओं के कई लाभ हैं और योजना का मुख्य लाभ यह है कि वरिष्ठ नागरिकों को मासिक आधार पर वित्तीय भत्ता प्रदान किया जाएगा।
  • प्रोत्साहन सीधे राज्य में वरिष्ठ नागरिकों के बैंक खाते में जमा किया जाएगा।
  • उत्तर प्रदेश सरकार ने योजना शुरू की है ताकि हमारे देश के वरिष्ठ नागरिकों को अपने जीवन की वित्तीय समस्याओं के बारे में चिंता करने की कोई जरूरत नहीं है।
  • साथ ही, उत्तर प्रदेश राज्य में रहने वाले बुजुर्गों की विभिन्न श्रेणियों के लिए अलग-अलग पेंशन योजनाएं प्रदान की जाती हैं।
  •  

आवश्यक दस्तावेज़– UP Pension Scheme Required Document

उत्तर प्रदेश पेंशन योजनाओं के लिए आवेदन करने के लिए आवेदक के पास आवेदन पत्र भरते समय इन दस्तावेजों को तैयार रखना चाहिए:

  • जन्म / आयु प्रमाण पत्र
  • पहचान प्रमाण जैसे कि-

·         वोटर आई.डी.

·         आधार कार्ड

·         राशन कार्ड

  • बैंक पासबुक
  • सक्षम अधिकारी से आय प्रमाण पत्र
  • पति का मृत्यु प्रमाण पत्र
  • विकलांगता प्रमाण पत्र

उत्तर प्रदेश पेंशन योजना आवेदन की प्रक्रिया ( Apply Online)

उपर्युक्त पेंशन योजनाओं में से किसी एक के लिए आवेदन करने के लिए, आपको नीचे दिए गए निम्नलिखित सरल कदम उठाने होंगे:

वृद्धावस्था पेंशन योजना के लिए

पेंशन तथा अनुदान योजनाओं हेतु आवेदन पत्र.

  1. वृद्धावस्था पेंशन
  2. विधवा पेंशन
  3. दिव्यांगता पेंशन
  4. अनुसूचित जातियों के लिए अटल आवास योजना
  5. अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति के निर्धन एवं असहाय व्यक्तियों के ईलाज हेतु वित्तीय सहायता
  6. तीलू रौतेली विशेष पेंशन योजना
  7. बौना पेंशन
  8. दिव्यांग भरण-पोषण अनुदान
  9. गौरादेवी कन्याधन योजना
  10. किसान पेंशन योजना
  11. शारीरिक रूप से दिव्यांग व्यक्तियों को बनावटी अंग लगवाने हेतु अनुदान
  12. राष्ट्रीय पारिवारिक लाभ योजना
  13. अन्तर्जातीय/अन्तर्धार्मिक विवाह प्रोत्साहन पुरस्कार योजनान्तर्गत नगद पुरस्कार
  14. परित्यक्ता विवाहित महिला/मानसिक रूप से विकृत/ विक्षिप्त पति अथवा पत्नी एवं निराश्रित अविवाहित महिलाओं को भरण-पोषण अनुदान
  15. निराश्रित विधवा के पुत्रियों की शादी हेतु वित्तीय सहायता
  16. अनुसूचित जाति के व्यक्तियों की पुत्री की शादी हेतु वित्तीय सहायता
  17. राजकीय औद्योगिकी   प्रशिक्षण  संस्थान  पाईन्स /मालधनचौड़ /बागेश्वेर मे छात्र -छात्राओं के  (वर्ष  2019-2020) के प्रवेश हेतु आवेदन पत्र व  विज्ञप्ति 


Reactions

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ